For the best experience, open
https://m.khabardevbhoomi.com
on your mobile browser.
Advertisement

बड़ी खबर। सुप्रीम कोर्ट में विधानसभा से बर्खास्त कर्मियों की याचिका खारिज, डेढ़ मिनट में हो गया फैसला

05:05 PM Dec 15, 2022 IST | Khabar Devbhoomi Desk
बड़ी खबर। सुप्रीम कोर्ट में विधानसभा से बर्खास्त कर्मियों की याचिका खारिज  डेढ़ मिनट में हो गया फैसला
Advertisement

uttarakhand-vidhansabha-1दिल्ली से उत्तराखंड के लिए एक बड़ी खबर आई है। सुप्रीम कोर्ट ने विधानसभा से बर्खास्त कर्मियों की याचिका को खारिज कर दिया है। अब बर्खास्तगी से बचने का कोई रास्ता नहीं बचा है।

Advertisement

दरअसल विधानसभा अध्यक्ष ने हाल ही में 2016 से अब तक विधानसभा में भर्ती हुए 228 कर्मियों को नियम विरुद्ध मानते हुए रद्द कर दिया था। इसके बाद इन कर्मियों ने कोर्ट का रुख किया।

हाईकोर्ट की एकल पीठ ने कर्मियों के पक्ष में फैसला दिया हालांकि डबल बेंच ने विधानसभा अध्यक्ष के फैसले को सही ठहराया और बर्खास्तगी जारी रखी।

Advertisement

इसके बाद बर्खास्त किए गए कर्मियों ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया और उन्होंने याचिका डाली। इस संबंध में विधानसभा अध्यक्ष की ओर से भी कैविएट दाखिल किया गया था।

देहरादून में कई पुलिस कर्मियों के ‘ट्रांसफर, SSP ने जारी किए आदेश

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के लिए जो एसएलपी डाली गई थी उसे कोर्ट ने स्वीकार करने से मना कर दिया। इसके बार कर्मियों के वकील ने याचिका वापस ले ली। इसके साथ ही विधानसभा से बर्खास्त किए गए कर्मियों को राहत मिलने का रास्ता बंद होता दिख रहा है। बताया जा रहा है कि कोर्ट ने महज डेढ़ मिनट में ही सुनवाई पूरी कर ली और याचिका को खारिज कर दिया।

विधानसभा से बर्खास्त कर्मियों की तीन पिटिशन

आपको बता दें कि इस संबंध में तीन पिटिशन कोर्ट में डाली गईं थीं। तीनों ही पिटिशन पर एक साथ सुनवाई की गई।

दिलचस्प ये है कि इस मामले में विधानसभा अध्यक्ष की ओर से पक्ष रखने के लिए भारत से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता भी व्यक्तिगत रूप से मौजूद रहे। हाईकोर्ट की डबल बेंच में विधानसभा का पक्ष रखने वाले एडवोकेट अमित तिवारी भी विधानसभा की ओर से पैरवी कर रहे थे। जबकि विधानसभा से निकाले गए, कर्मचारियों की पैरवी एडवोकेट विमल पटवालिया कर रहे थे। अभिषेक मनु सिंघवी को भी पैरवी के लिए पहुंचना था, लेकिन वह पैरवी के लिए नहीं पहुंचे।

वहीं इस मामले में विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी का बयान सामने आया है। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया है।


हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें Instagram, Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube


Advertisement
Tags :
Advertisement